23.5 C
Chandigarh

India-Canada: भारतीय छात्रों का कनाडा से मोहभंग, परमिट में 86 फीसदी गिरावट

- Advertisement -spot_img

Student permit immigration

भारत और कनाडा के रिश्तों की तल्खी का असर शिक्षा पर भी पड़ रहा है। कनाडा सरकार का कहना है कि खालिस्तान मुद्दे पर विवाद के बीच भारतीय छात्रों का मोहभंग होने लगा है। भारत से जाने वाले छात्रों को मिलने वाले परमिट में लगभग 86 फीसदी गिरावट दर्ज की गई है। निज्जर की हत्या के बाद कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के बयान को लेकर भारत ने कनाडा के साथ राजनयिक संबंधों पर कड़ा रूख अख्तियार किया है। बड़ी संख्या में भारतीय छात्र पढ़ाई करने कनाडा जाते है। ताजा घटनाक्रम में भारतीय छात्रों का मोहभंग होने की बात सामने आई है।

Read also: Petrol-Diesel Price: 5-10 रुपये सस्ता होने वाला है पेट्रोल-डीजल

रिपोर्ट के मुताबिक कनाडा के आप्रवासन मंत्री मार्क मिलर ने भी कहा है कि भारत से आने वाले छात्रों की संख्या निकट भविष्य में बढ़ेगी, इसकी संभावनाएं क्षीण है। कनाडा जाने के लिए भारतीय छात्रों को जो परमिट मिलता है, उसमें लगातार गिरावट देखी जा रही है। लगभग 86 फीसदी कम भारतीय छात्रों को परमिट मिले है। कनाडा सरकार के बड़े अधिकारी ने बताया है कि पिछले साल के अंत में परमिट में तेज गिरावट देखी गई। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि भारत ने परमिट की प्रक्रिया पूरी करने वाले कनाडाई राजनयिकों को देश से बाहर निकाल दिया। खालिस्तान मुद्दे पर विवाद के बीच भारत की सख्ती का नतीजा यह भी हुआ कि कनाडा में पढ़ाई के लिए पहले की तुलना में काफी कम छात्रों ने आवेदन किए। दोनों देशों के तल्ख रिश्तों के बीच आप्रवासन मंत्री मिलर का मानना है कि शिक्षा जगत पर इस तनाव का बुरा असर पड़ने की आशंका है। उन्होंने कहा कि तनाव के कारण भारत से आने वाले आवेदन कम हुए है। साथ ही इनको प्रोसेस करने में जुटे अधिकारियों की संख्या भी लगभग आधी हो चुकी है।

Student permit immigration

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img