23.5 C
Chandigarh

लोगों ने नदी में गिरते देखा जहाज; हवा-पानी के बीच 3000 फीट पर फंसी 155 जिंदगियां!

- Advertisement -spot_img

US airways flight 1549 river Crash

3000 फीट की ऊंचाई थी। प्लेन के दोनों इंजन बंद हो चुके थे। ठीक नीचे पानी से गहरी नदी थी। ऊपर भी मौत और नीचे भी मौत देखकर पायलट की सांसें अटक गई, क्योंकि उसे अपनी परवाह नहीं थी, लेकिन उस पर 155 लोगों की जिम्मेदारी थी। पानी और हवा के बीच 155 जिंदगियां ऐसे फंस थी कि 3 मिनट में कुछ भी हो सकता था।

Read also: 5जी प्लान के लिए अब देने होंगे पैसे, जल्द ही खत्म होने वाली है अनलिमिटेड डाटा की स्कीम

हादसे का कारण थे गीज पक्षी-
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, US एयरवेज़ की फ्लाइट 1549 ने 15 जनवरी 2009 की दोपहर 3:24 बजे लोगार्डिया से शेर्लोट के लिए उड़ान भरी। 66 टन वज़नी जहाज में कंबाइंड थर्स्ट वाले 2 इंजन थे। क्रू मेंबर्स और 155 यात्री सवार थे। न्यूयॉर्क शहर के उत्तर में जाते हुए जहाज को पश्चिम में शार्लोट की तरफ मुड़ना था , जिसमें करीब 2 घंटे लगते। 250 मील प्रति घंटे की रफ्तार से जहाज ने उड़ान भरी और करीब 50 सेकेंड में ही यह 3200 फीट की ऊंचाई पर पहुंच गया। अचानक जोरदार आवाज आई और पक्षी जहाज के इंजन से टकराया।

3 मिनट ऊपर और नीचे दोनों तरफ मौत रही
चैस्ले ने BBC को बताया कि इंजन बंद था, जहाज हवा में लटका था। 3000 फीट की ऊंचाई पर थे। प्लेन तेजी से ऊपर जा रहा था और जहाज 3 हजार फीट से ऊपर नहीं जा सकता था, क्रैश होने का खतरा था। किसी भी कीमत पर प्लेन को नीचे उतरना था, लेकिन मौत 3 मिनट के गैप पर थी। 58 साल के सैली की रिटायरमेंट में 7 साल बचे थे। वे US एयरवेज़ में 30 साल से वर्किंग थे, लेकिन 30 साल के अनुभव को 3 मिनट में दिखाने का चैलेंज था। को-पायलट जे जोसेफ एयरबस मैन्युल के हिसाब से इंजन को रि-स्टार्ट करने में जुटे थे।

पानी में लैंडिंग 1 बार पहले नाकाम हो चुकी थी
वहीं एयर ट्रैफिक कंट्रोलर पैट्रिक ने लोगार्डिया से सभी उड़ानें रद्द कर द, क्योंकि प्लेन 1549 रनवे नंबर 13 लैंडिंग कर रहा था। चैस्ले तैयार थे, कंट्रोलर ने भी परमिशन दे दी थी, लेकिन चैस्ले ने ऐन मौके पर मना कर दिया। जहाज को न्यूजर्सी में टीटरबोरो ले जा सकते थे, लेकिन वह 6 मील दूर था। ऐसे में कैप्टन ने तय किया कि वे जहाज को हडसन नदी में उतारेंगे, लेकिन यह खतरनाक था, क्योंकि 1996 में इथोपियन एयरलाइंस का बोइंग 767 भारतीय महासागर में क्रैश हो गया था और 175 में से 125 लोग मारे गए थे।

US airways flight 1549 river Crash

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img