12.5 C
Chandigarh

सरकार की ‘बिल लाओ, इनाम पाओ’ योजना को लोगों का जबरदस्त समर्थन मिल रहा है

- Advertisement -spot_img

मोगा, 15 जनवरी:
पंजाब सरकार द्वारा शुरू की गई ‘बिल लाओ, इनाम पाओ’ योजना लोगों को सामान खरीदने के बाद डीलरों से बिल लेने के लिए प्रोत्साहित करने की एक विशेष पहल है। इस योजना के तहत उपभोक्ताओं द्वारा इस ऐप पर अपलोड किए गए बिल से हर महीने 1 लाख रुपये तक का नकद पुरस्कार ड्रॉ के माध्यम से दिया जा रहा है। इस योजना का लाभ कई उपभोक्ताओं ने उठाया है। यह योजना उपभोक्ताओं को सामान की खरीद के समय डीलरों से बिल प्राप्त करने के लिए जागरूक कर रही है। बिल अपलोड कर आम जनता इनाम में भागीदार बन रही है और सरकारी राजस्व की चोरी रोकने में भी मददगार साबित हो रही है। इस योजना से आम जनता में सामान खरीदने के बाद बिल लेने का उत्साह काफी बढ़ गया है।योजना को आम जनता से काफी प्रतिक्रिया भी मिल रही है।

जानकारी देते हुए सहायक आयुक्त राज्य कर, जीएसटी विभाग, मोगा श्री वीर प्रकाश सिंह ने बताया कि ‘मेरा बिल’ ऐप के माध्यम से लोगों को पुरस्कार दिए जा रहे हैं और अपंजीकृत फर्मों को इन अपलोड किए गए बिलों और अन्य सूचनाओं के साथ मदद की जा रही है और जी.एस.टी. चोरों की भी जानकारी मिल रही है। ऐप पर अपलोड किए गए बिलों के साथ जो डीलर पिछले कई महीनों से बेचे गए माल के कच्चे बिल काटकर टैक्स की चोरी कर रहे थे, मोगा कार्यालय ने उन व्यापारियों के डेटा और रिटर्न की जांच कर एक नोटिस जारी किया है। सूचना पर उचित कार्यवाही कर टैक्स एवं जुर्माना वसूल किया गया उन्होंने कहा कि इसके अलावा, इस ऐप के माध्यम से कई अपंजीकृत डीलर भी पाए गए जो जीएसटी अधिनियम के तहत पंजीकरण के दायरे में आते थे लेकिन वे जीएसटी का भुगतान करने में विफल रहे। पंजीयन प्राप्त नहीं किया गया, ऐसे डीलरों को जी.एस.टी. अधिनियम-2017 का उल्लंघन करने पर नोटिस जारी किये गये तथा जिन 33 व्यापारियों के बिल नहीं पाये गये, उन पर 5 लाख 39 हजार रूपये का जुर्माना लगाया गया है।

उन्होंने कहा कि मोगा निवासियों को कुछ भी खरीदते समय वैध बिल जरूर लेना चाहिए और उसे मेरा बिल एप पर अपलोड करना चाहिए।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img