23.5 C
Chandigarh

भारत के पूर्व कप्तान और 11 टेस्ट खेल चुके दिग्गज क्रिकेटर का निधन…

- Advertisement -spot_img

Indian cricketer death

भारतीय क्रिकेट इतिहास के लिए मंगलवार 13 फरवरी का दिन काफी दुखद रहा। देश के लिए 11 टेस्ट मैच खेल चुके दिग्गज क्रिकेटर ने दुनिया को अलविदा कह दिया। 1959 में इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया की कप्तानी कर चुके दत्ताजीराओ गायकवाड़ का 95 साल की उम्र में निधन हो गया। वह भारत के सबसे उम्रदराज टेस्ट क्रिकेटर भी रहे थे। वहीं उनकी कप्तानी में 1957-58 में बड़ौदा की टीम ने भी रणजी ट्रॉफी का खिताब जीता था।

Read also: शंभू बॉर्डर पर किसानों ने किया पथराव; ड्रोन से दागे गए आंसू गैस के गोले

उनके निधन पर बीसीसीआई ने दुख भी जताया। बोर्ड ने एक्स पर उनकी फोटो के साथ शोक व्यक्त किया। बोर्ड की तरफ से उनके परिवार, उनके मित्र और सभी करीबियों के लिए गहरी संवेदनाएं। वह भारत के लिए खेलने वाले एक और क्रिकेटर अंशुमन गायकवाड़ के पिता भी थे। उन्होंने 1952 में डेब्यू किया था और बड़ौदा की रॉयल फैमिली से वह आते थे। 1961 में दत्ताजी ने अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था। उनके निधन पर कई लोगों ने शोक व्यक्त किया है। दत्ताजीराव का इंटरनेशनल करियर कुछ ऐसा रहा कि 11 टेस्ट मैच में उन्होंने 350 रन बनाए। उनका फर्स्ट क्लास करियर इसके एकदम विपरीत रहा। दत्ताजीराओ ने 110 मुकाबलों में 5788 रन बनाए। उनके नाम फर्स्ट क्लास में 17 शतक और 23 अर्धशतक दर्ज है। उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 249 रन रहा। वह अपने पिता से आगे निकले और उन्होंने भारत के लिए 40 टेस्ट और 15 वनडे इंटरनेशनल मुकाबले खेले। अंशुमन गायकवाड़ के नाम टेस्ट में 1985 रन दर्ज है, जिसमें 2 शतक और 10 अर्धशतक शामिल है। टेस्ट में उनका बेस्ट स्कोर 201 रन रहा और 2 विकेट भी उन्होंने झटके। वहीं वनडे में अंशुमन ने 269 रन बनाए और 78 उनका बेस्ट स्कोर रहा। अंशुमन गायकवाड़ ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 206 मैच खेलते हुए 12136 रन बनाए।

Indian cricketer death

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img