23.5 C
Chandigarh

मुख्यमंत्री द्वारा औद्योगिक शहर लुधियाना के लिए बड़े विकास प्रोजेक्टों का ऐलान  

- Advertisement -spot_img

लुधियाना, 29 दिसंबर:

 पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने आज लुधियाना की नुहार बदलने के लिए बड़े विकास प्रोजेक्टों का ऐलान करते हुए कहा कि इस मंतव्य के लिए करोड़ों रुपए के नये प्रोजैक्ट शुरू और चल रहे प्रोजैक्ट समयबद्ध ढंग से मुकम्मल किए जाएंगे।  

 यहाँ एक उच्च स्तरीय मीटिंग के दौरान शहर में चल रहे विकास प्रोजेक्टों का जायज़ा लेते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार इस औद्योगिक शहर के सर्वांगीण विकास को बढ़ावा देने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने बताया कि शहर को हरा-भरा बनाने के लिए 28.91 करोड़ रुपए की लागत से पौधे लगाने के 46 प्रोजैक्ट विचारे गए हैं, जिनमें से 14.18 करोड़ रुपए के 19 कार्य पहले ही मुकम्मल हो चुके हैं और बाकी आने वाले दिनों में मुकम्मल कर लिए जाएंगे।  

 भगवंत सिंह मान ने बताया कि स्मार्ट सिटी स्कीम के अंतर्गत 930 करोड़ रुपए के 72 प्रोजैक्ट शुरू किये गए थे, जिनमें से 219 करोड़ रुपए के प्रोजैक्ट मुकम्मल हो चुके हैं और 549.10 करोड़ रुपए के प्रोजेक्टों पर काम चल रहा है और 161.90 रुपए के प्रोजेक्टों के टैंडर अलॉट कर दिए गए हैं।  

 मुख्यमंत्री ने कहा कि इंटीग्रेटिड कमांड एंड कंट्रोल सैंटर, ऑल वैदर इन्डोर स्विमिंग पूल, एल.ई.डी. स्ट्रीट लाईटों, लुधियाना के लिए सतही पानी की सप्लाई, बुढ्ढ़ा दरिया को पुर्नजिवित, ठोस अवशेष प्रबंधन जैसे और अन्य बड़े प्रोजैक्ट शहर को नया रूप देंगे।  

 उन्होंने कहा कि कम्युनिटी क्लब, सीनियर सिटिजन क्लब और सिलाई सैंटर, सैक्टर 32, लुधियाना, स्वास्थ्य केंद्र (स्पोर्टस सैंटर), सैक्टर 32-ए, लुधियाना, सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल, सैक्टर 32, लुधियाना में स्विमिंग पूल और पम्प चेंबर और फेज-3 अर्बन एस्टेट से जैन मंदिर दुग्गरी, लुधियाना तक    200′-00” चौड़ी सडक़ के निर्माण का काम भी ज़ोरों पर चल रहा है।  

 भगवंत सिंह मान ने आगे बताया कि लुधियाना-धूरी रेलवे लाईन पर 25.69 करोड़ रुपए की लागत से आर.ओ.बी के निर्माण और पहुँच सडक़ें बनाने का काम भी अलॉट किया गया है।  

 लुधियाना के निवासियों को बड़ी राहत देते हुए मुख्यमंत्री ने ऐलान किया कि गाँव खवाजके से मत्तेवाड़ा तक राहों रोड के 16 किलोमीटर हिस्से की री-कारपेटिंग का काम, जो पिछले 15 सालों से नहीं हुआ, आने वाले दिनों में शुरू हो जायेगा, क्योंकि इसके लिए टैंडर अलॉट हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि इस प्रोजैक्ट के मुकम्मल होने से लुधियाना निवासियों की काफी देर की माँग पूरी होगी। भगवंत सिंह मान ने भरोसा दिलाया कि वह सभी कामों की ख़ुद निगरानी करेंगे, जिससे शहर के प्रोजेक्टों को समयबद्ध ढंग से मुकम्मल किया जा सके।  

 मुख्यमंत्री ने लोगों में सुरक्षा की भावना पैदा करने के लिए लुधियाना के हरेक विधान सभा हलके में 1500 स्ट्रीट लाईटों, सीसीटीवी कैमरे लगाने का भी ऐलान किया। उन्होंने बताया कि टैंडर जारी हो चुके हैं और जल्दी ही काम अलॉट कर दिया जायेगा। भगवंत सिंह मान ने कहा कि बुढ्ढ़े नाले का मसला भी जल्दी हल कर लिया जायेगा और जालंधर सडक़ को जोडऩे वाले नाले पर बने पुल का निर्माण का काम शुरू करवाया जायेगा।  

 मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रवासी भारतीय मामलों संबंधी विभाग को और अधिक मज़बूत किया जायेगा और विदेशों से पंजाबियों की लाशें वापस लाने और धोखेबाज़ ट्रैवल एजेंटों के विरुद्ध कार्यवाही करने के लिए विभाग को अधिकृत किया जायेगा। उन्होंने बताया कि लोगों को उनके सफऱ में सहायता के लिए आई.जी.आई. एयरपोर्ट दिल्ली में पंजाब हेल्प डैस्क शुरू किया जा रहा है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि एन.आर.आईज़ के लम्बित मसलों के हल के लिए 3 फरवरी से एन.आर.आई. मीटिंगें या मिलनियां करवाई जाएंगी।  

 मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 फरवरी से हलवाड़ा टर्मिनल से उड़ानें शुरू हो जाएंगी, जिससे इस क्षेत्र में आर्थिक और औद्योगिक गतिविधियों को और अधिक बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने आगे कहा कि राज्य के व्यापक विकास और लोगों की खुशहाली को यकीनी बनाने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जायेगी। भगवंत सिंह मान ने कहा कि राज्य सरकार के अथक यत्नों के स्वरूप वह दिन दूर नहीं जब पंजाब हर क्षेत्र में अग्रणी बन कर उभरेगा।  

 मीटिंग के उपरांत, पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान मुख्यमंत्री ने भाजपा नेता सुनील जाखड़ को पंजाब सरकार की झाँकी के बारे में लगाए अपने दोषों को साबित करने की चुनौती दी, जिसमें भाजपा नेता ने कहा था कि ‘आप’ सरकार झाँकी में अरविन्द केजरीवाल और भगवंत सिंह मान की फोटो लगाने पर जि़द हुई है, जिस कारण सम्बन्धित समिति ने झाँकी को रद्द कर दिया है। इसको जाखड़ का एक और झूठ बताते हुए भगवंत सिंह मान ने कहा कि यदि यह दोष सही साबित हुए तो वह राजनीति छोड़ देंगे। उन्होंने कहा कि जाखड़ हाल ही में भाजपा में शामिल हुए हैं, इसलिए उनको भाजपा के अन्य तजुर्बेकार नेताओं की तरह झूठ बोलने की कला में अभी पूरी महारत हासिल नहीं हुई।  

 मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा नेता असली तथ्यों को छिपाने के लिए हमेशा अपने हाईकमांड से तैयार-बर-तैयार सक्रिप्टें प्राप्त करते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा 26 जनवरी को पंजाब भर में होने वाले सभी समागमों में इस झांकी को शामिल करके राज्य की समृद्ध विरासत को लोगों के आगे पेश किया जायेगा। भगवंत सिंह मान ने कहा कि राज्य की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के साथ-साथ आज़ादी प्राप्त करने के लिए हमारे शहीदों के बलिदान को प्रदर्शित करने के लिए 20 जनवरी से राष्ट्रीय राजधानी के पंजाब भवन में इस झांकी को प्रदर्शित किया जायेगा।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img