23.5 C
Chandigarh

Ram Mandir: प्राण प्रतिष्ठा के लिए PM मोदी आज से शुरू करेंगे 11 दिन का अनुष्ठान

- Advertisement -spot_img

Ram mandir pran pratishta

अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा से पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने आज देशवासियों के नाम 1 ऑडियो संदेश जारी किया है। पीएम मोदी ने कहा कि अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में केवल 11 दिन ही बचे है। मेरा सौभाग्य है कि मैं भी इस पुण्य अवसर का साक्षी बनूंगा। प्रभु ने मुझे प्राण प्रतिष्ठा के दौरान, सभी भारतवासियों का प्रतिनिधित्व करने का निमित्त बनाया है। इसे ध्यान में रखते हुए मैं आज से 11 दिन का विशेष अनुष्ठान आरंभ कर रहा हूं। इस समय, अपनी भावनाओं को शब्दों में कह पाना बहुत मुश्किल है, लेकिन मैंने अपनी तरफ से 1 प्रयास किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जीवन के कुछ क्षण ईश्वरीय आशीर्वाद की वजह से ही यथार्थ में बदलते है। आज हम सभी भारतीयों के लिए, दुनियाभर में फैले रामभक्तों के लिए ऐसा ही पवित्र अवसर है। चारों दिशाओं में राम नाम की धुन है। राम भजनों की अद्भुत सौंदर्य माधुरी है। हर किसी को इंतजार है 22 जनवरी का, उस ऐतिहासिक पवित्र पल का है। मेरा सौभाग्य है कि मुझे भी इस पुण्य अवसर का साक्षी बनने का अवसर मिल रहा है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि मैं भावुक हूं। मैं पहली बार जीवन में इस तरह के मनोभाव से गुजर रहा हूं। मैं एक अलग ही भाव-भक्ति की अनुभूति कर रहा हूं। जिस स्वप्न को अनेकों पीढ़ियों ने वर्षों तक 1 संकल्प की तरह अपने हृदय में जिया, मुझे उसकी सिद्धि के समय उपस्थित होने का सौभाग्य मिला है।

Read also: रोहित 100 टी20 मैच जीतने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी, सबसे ज्यादा शून्य पर आउट होने वाले भी बने

प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रभु ने मुझे सभी भारतवासियों का प्रतिनिधित्व करने का निमित्त बनाया है। ‘निमित्त मात्रम् भव सव्य-साचिन्’ ये बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। जैसा हमारे शास्त्रों में भी कहा गया है। हमें ईश्वर के यज्ञ के लिए, आराधना के लिए, स्वयं में भी दैवीय चेतना जागृत करनी होती है। उन्होंने जो यम नियम सुझाए है, उसके अनुसार मैं आज से 11 दिन का विशेष अनुष्ठान आरंभ कर रहा हूं। इस पवित्र अवसर पर मैं परमात्मा के श्रीचरणों में प्रार्थना करता हूं। ऋषियों, मुनियों, तपस्वियों का पुण्य स्मरण करता हूं। जनता-जनार्दन जो ईश्वर का स्वरूप है, उनसे प्रार्थना करता हूं कि आप मुझे आशीर्वाद दे। ताकि मन से, वचन से, कर्म से मेरी तरफ से कोई कमी ना रहे। पीएम मोदी ने कहा कि मेरा ये सौभाग्य है कि 11 दिन के अपने अनुष्ठान का आरंभ मैं नासिक धाम पंचवटी से कर रहा हूं। पंचवटी वो पावन धरा है, जहां प्रभु श्रीरान ने काफी समय बिताया था। आज मेरे लिए एक सुखद संयोग ये भी है कि आज स्वामी विवेकानंद जी की जन्म जयंती है। ये स्वामी विवेकानंद जी ही तो थे जिन्होंने हजारों वर्षों से आक्रांतित भारत की आत्मा को झकझोरा था।

Ram mandir pran pratishta

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img