12.5 C
Chandigarh

पंजाब फायर ब्रिगेड भर्ती नियमों में बदलाव की तैयारी:महिलाओं को मिल सकती है वजन में राहत

- Advertisement -spot_img

Punjab Fire Department Recruitment

पंजाब फायर विभाग में महिलाओं की भर्ती संबंधी नियमों में सरकार बदलाव करने की तैयारी में है। सरकार ने एडवोकेट जनरल से इस बारे में कानूनी राय मांगी है, ताकि पहले से चल आ रहे नियमों को संशोधित किया जा सकें। सरकार की कोशिश आने वाले सप्ताह में नियमों में संशोधन कर नोटिफिकेशन जारी करने की है। क्योंकि CM भगवंत मान खुद एक सार्वजनिक मंच से इस बात का ऐलान कर चुके हैं। साथ ही उन्होंने वादा किया था कि इस नियमों में पहल के आधार पर बदलाव किया जाएगा।

ऐसे शुरू हुआ इस मुद्दे पर मंथन

दरअसल फायर विभाग के भर्ती नियमों में एक शर्त है कि महिला व पुरुष दोनों आवेदकों को शारीरिक टेस्ट में 60 किलोग्राम वजन लेकर सौ गज तक चलना होगा। इस बात का महिला आवेदकों द्वारा विरोध किया जा रहा है। डेराबस्सी में एक समागम में कुछ युवतियों ने इस मामले को CM के समक्ष उठाया था। उनकी दलील थी कि वह फायर विभाग द्वारा निकाले गए पदों की सारी योग्यताओं को पूरा करती हैं। लेकिन वजन के नियम की वजह से वह आफत में है।

उनकी बात को सुनकर CM ने खुद माना था कि ऐसा तो हो ही नहीं सकता है कि जब आग लगेगी तो वहां पर फंसा व्यक्ति 60 किलोग्राम का ही होगा। ऐसे में उन्होंने कहा था कि जल्दी ही इन नियमों में संशोधन किया जाएगा। हालांकि पता चला है कि अब 40 किलोग्राम भार वर्ग की शर्त लगाई जा सकती है।

1400 महिला आवेदक परेशानी में

पंजाब का फायर विभाग स्थानीय निकाय विभाग के अधीन आता है। इस सरकार के सत्ता में आते ही पंजाब सरकार ने पूरे राज्य में फायर विभाग को मजबूत करने की दिशा में काम शुरू किया था। फायर विभाग को अति आधुनिक मशीनरी मुहैया करवाई गई थी। इसके बाद मोहाली जिले में पहला फायर इंस्टीट्यूट बनाने का फैसला लिया था।

वहीं, अब 450 के करीब पदों को भरने के लिए सरकार तैयारी में है। लिखित परीक्षा हो चुकी है। अब यह नियम करीब 1450 महिलाओं के लिए आफत बना हुआ है। हालांकि सरकार सारे पहलुओं पर इसको लेकर चर्चा कर रही है।

READ ALSO:फतेहाबाद में होंडा सिटी को सेंट्रो ने मारी टक्कर:2 भाइयों की मौत: 3 अन्य घायल

60 किलो वजन उठाने में लड़के आफ गए थे

गत समय में जब राज्य में अकाली दल भाजपा की सरकार की सरकार थी। उस समय आउट सोर्स पर इन पदों को भरने की पहल की गई थी । मोहाली में जब शारीरिक टेस्ट की प्रक्रिया शुरू हुई तो लड़कों को 60 किलोग्राम भार लेकर भागने को कहा गया है। लेकिन ज्यादातर लड़के भाग नहीं पाए थे। ऐसे में यह भर्ती पूरी नहीं हो पाई थी। साथ ही बीच में इस भर्ती प्रक्रिया को छोड़ना पड़ा था।

Punjab Fire Department Recruitment

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img