12.5 C
Chandigarh

पी.एम. विश्वकर्मा योजना के तहत प्राप्त 363 आवेदनों पर अग्रेतर कार्रवाई की स्वीकृति दी गयी

- Advertisement -spot_img

मोगा, 9 जनवरी (000) – भारत सरकार ने पी.एम. लॉन्च किया। जिला मोगा में 18 अलग-अलग व्यवसायों से जुड़े कारीगरों के पंजीकरण का कार्य विश्वकर्मा योजना का लगातार चल रहा है। आज उपायुक्त श्री कुलवंत सिंह ने योजना के तहत गठित जिला कार्यान्वयन समिति की बैठक की अध्यक्षता की।
पी.एम. विश्वकर्मा योजना के तहत अब तक विभिन्न अभ्यर्थियों के 363 आवेदन प्राप्त हुए, जिन्हें उपायुक्त द्वारा अग्रेतर कार्रवाई हेतु अनुमोदित कर दिया गया है। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को इस योजना का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करने के दिशा-निर्देश जारी किये। योजना के तहत कलाकारों का एक पोर्टल पर पंजीकरण किया जा रहा है। जिला मोगा में चल रहे 300 से अधिक कॉमन सर्विस सेंटरों पर रजिस्ट्रेशन का काम चल रहा है। यह रजिस्ट्रेशन डेटा जिला उद्योग केंद्र में एकत्र किया जा रहा है।
उपायुक्त ने समिति को निर्देश दिया कि 18 व्यवसायों से जुड़े कारीगरों का सात प्रतिशत निबंधन सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाये. इस योजना में विश्वकर्मियों को अपने पेशे में और अधिक दक्षता लाने के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा और प्रतिदिन 500 रुपये भी दिए जाएंगे। योग्य कारीगरों को केंद्र द्वारा एक प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा और टूल किट खरीदने के लिए 15,000 रुपये का वाउचर दिया जाएगा। इसके बाद उन्हें बिना किसी शुल्क के एक लाख रुपये का ऋण दिया जाएगा, जिस पर केवल 5 प्रतिशत ब्याज लिया जाएगा। तय 18 महीनों में यह लोन लेने वाले कलाकार नए सिरे से 2 लाख रुपये का लोन प्राप्त कर सकेंगे। जिससे वे अपना काम बढ़ा सकेंगे। डिजिटल लेनदेन को औपचारिक बनाने के लिए पेशेवरों को प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा और उत्पादों को बेचने के लिए विपणन सहायता दी जाएगी।
उन्होंने कहा कि यह योजना कारीगरों के आर्थिक एवं सामाजिक उत्थान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। उन्होंने जिला मोगा के कारीगरों को इस योजना का लाभ उठाने के लिए आमंत्रित किया। उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिए 9888880556 पर संपर्क किया जा सकता है. बैठक में मोगा के एसडीएम श्री सारंगप्रीत सिंह औजला, जिला उद्योग केंद्र मोगा श्री सुखमिंदर सिंह रेखी, स. वजीर सिंह सहायक निदेशक एमएसएमई-डीएफओ मंत्रालय लुधियाना के अलावा अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img