15.5 C
Chandigarh

बेटे नमाशी ने मिथुन के प्रशंसकों को दी खुशखबरी, इस दिन अस्पताल से मिल जाएगी छुट्टी

- Advertisement -spot_img

Mithun Chakraborty

कोलकाता के एक निजी अस्पताल में भर्ती अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती की सेहत में तेजी से सुधार हो रहा है। उनके बड़े बेटे मिमोह ने कोलकाता में अपने पिता की देखरेख की पूरी जिम्मेदारी संभाल रखी है। वहीं छोटे बेटे नमाशी यहां मुंबई में अपनी मां का ख्याल रख रहे हैं। शनिवार को ही मिथुन ने अपनी पत्नी योगिता बाली से बात भी की थी। रविवार को भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय नेताओं ने भी उनका हाल चाल जाना। अब नमोशी ने अपने पिता को लेकर जो खुशखबरी दी है, उससे ‘दादा’ के नाम से मशहूर मिथुन चक्रवर्ती के प्रशंसकों ने राहत की सांस ली है।

शनिवार को मिथुन चक्रवर्ती को अचानक तबीयत खराब होने के बाद कोलकाता के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ‘ब्रेन स्ट्रोक’ की बात सामने आने के बाद उनके प्रशंसकों के होश ही उड़ गए थे, लेकिन शाम होते होते जब ‘अमर उजाला’ ने उनके सेहतमंद होने और अपनी पत्नी से फेसटाइम के जरिये बात करने की जानकारी दी तो लोगों की चिंता थोड़ी कम हुई। जीवट के धनी मिथुन के बारे में बताते हैं कि वह अस्पताल पहुंचने के बाद पूरे समय होश में ही रहे और अपने आसपास के लोगों से बातें करते रहे।

सोमवार को मिथुन चक्रवर्ती के छोटे बेटे नमाशी के बताया कि उनके पिता की सेहत में तेजी से सुधार हो रहा है और वह जल्द ही घर आ जाएंगे। नमोशी के मुताबिक, ‘पापा अभी ठीक हैं, मैं और मां (योगिता बाली) अभी मुंबई में है। कोलकाता में पिताजी के साथ मेरा भाई मिमोह है। पिता जी के सेहत में जिस तरह से सुधार होता दिख रहा है, उससे अगले 24 घंटे में पापा को अस्पताल से छुट्टी मिलने की उम्मीद है।’

बताया गया कि शनिवार की सुबह मिथुन चक्रवर्ती के सीने में दर्द हुआ, जिसकी वजह से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां पर डॉक्टरों की निगरानी में मिथुन  का इलाज चल रहा है। हालांकि इस पर अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती के बेटे नमाशी चक्रवर्ती के अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि उन्हें बस रेगुलर चेकअप के लिए अस्पताल लाया गया है।

READ ALSO:भिवानी से बच्चे का अपहरण कर भागे बदमाश:सिरसा में CIA से मुठभेड़

मिथुन का जन्म 16 जून 1950 को कोलकाता में ही हुआ था और वह हिंदी सिनेमा के सबसे कामयाब अभिनेताओं में शुमार हैं। 300 से ऊपर फिल्मों में लीड रोल करने का उनका भारतीय सिनेमा में अनोखा रिकॉर्ड है। वह अपने समय में देश के सबसे ज्यादा आयकरदाता भी रह चुके हैं। विदेशी ब्रांड्स के भारत में आगमन के बाद किसी विदेशी ब्रांड का अंबेसडर बनने वाले फिल्म अभिनेताओं में भी उनका नंबर सबसे पहले आता है। दो साल पहले हिंदी फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ में आखिरी बार नजर आए मिथुन की बांग्ला फिल्म ‘काबुलीवाला’ पिछले साल ही रिलीज हुई। 73 साल के हो चुके मिथुन अब भी फिल्मों में लीड रोल कर रहे हैं। 

Mithun Chakraborty

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img