18.5 C
Chandigarh

पंजाब पुलिस द्वारा 202 एफआईआरज़ दर्ज; 1.9 किलो हेरोइन, 6.80 लाख रुपए की ड्रग मनी बरामद

- Advertisement -spot_img

चंडीगढ़, 8 जनवरी:

मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के दिशा-निर्देशों पर पंजाब को नशा-मुक्त राज्य बनाने के लिए शुरु की गई मुहिम के हिस्से के तौर पर, पंजाब पुलिस ने सोमवार को नशों की खऱीद-फऱोख़्त या अन्य गतिवितिधियों सम्बन्धी संवेदनशील स्थानों में बड़े स्तर पर राज्य स्तरीय घेराबन्दी और तलाशी अभियान (कासो) चलाया। डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) पंजाब गौरव यादव के निर्देशों पर यह अभियान राज्य के सभी 28 पुलिस जिलों में चलाया गया।  

यह ऑपरेशन राज्य भर में सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक एक ही समय चलाया गया और पंजाब पुलिस हैडक्वाटर के स्पैशल डीजीपी / एडीजीपी / आईजीपी / डीआईजी रैंक के अधिकारियों को हरेक पुलिस जि़ले में निजी तौर पर कार्यवाही की निगरानी करने के लिए तैनात किया गया।  

सीपीज़/ एसएसपीज़ को कहा गया कि वह पूरी सावधानी और सतर्कता से योजना बनाने के लिए अपने-अपने सम्बन्धित जिलों में नशीले पदार्थों और मेडिकल नशों की बिक्री वाले प्वाइंटों या ऐसे स्थानों (ड्रग हॉटस्पॉट्स), जो नशा-तस्करों की पनाहगाहें हैं और जहाँ वह धड़ल्ले से अपनी अवैध गतिविधि को अंजाम देने के लिए सुरक्षित हैं, की पहचान करें जिससे भारी पुलिस तैनाती के साथ इस ऑपरेशन को सफल बनाया जा सके।  

विशेष डीजीपी लॉ एंड ऑर्डर अर्पित शुक्ला जिन्होंने फतेहगढ़ साहिब में एसएसपी रवजोत कौर गरेवाल के साथ इस ऑपरेशन का नेतृत्व किया, ने कहा कि राज्य सरकार ने राज्य से नशों के ख़ात्मे के लिए तीन-स्तरीय रणनीति-एनफोर्समैंट, रोकथाम और पुनर्वास लागू किया है।  

उन्होंने कहा कि पंजाब को नशा-मुक्त करने के लिए पंजाब पुलिस कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रही है। उन्होंने कहा कि इस तरह के बड़े स्तर पर ऐसे कासो ऑपरेशन न केवल समाज विरोधी तत्वों में ख़ौफ़ पैदा करने में मदद करते हैं, बल्कि लोगों का भरोसा बढ़ाते हैं और क्षेत्र में पुलिस की मौजूदगी को भी बढ़ाते हैं।  

स्पैशल डीजीपी ने बताया कि 9000 से अधिक पुलिस कर्मियों की संख्या वाली 600 से अधिक पुलिस टीमों ने 268 ड्रग हॉटस्पॉट्स की घेराबन्दी की और 5505 संदिग्ध व्यक्तियों की तलाशी ली। 

ऑपरेशन के दौरान, पुलिस ने 202 एफआईआर दर्ज करके 48 व्यक्तियों को गिरफ़्तार करने के अलावा 21 भगौड़े अपराधियों (पीओ) को भी हिरासत में लिया।  

इस सम्बन्धी नतीजे साझे करते हुए स्पैशल डीजीपी अर्पित शुक्ला ने बताया कि पुलिस टीमों ने 1.9 किलो हेरोइन, 6.80 लाख रुपए की ड्रग मनी, 1.1 किलो अफ़ीम, 87.5 किलो भुक्की, 10125 नशीली गोलियाँ, 18 टीके, 885 लीटर अवैध शराब और 12,350 लीटर लाहन की बरामदगी के अलावा 16 मोटरसाईकल और एक कार भी ज़ब्त की है।  

बताने योग्य है कि जि़ला पुलिस बलों द्वारा आंकड़ों के विश्लेषण के द्वारा नशों के हॉटस्पॉट्स की पहचान करने के बाद यह ऑपरेशन चलाया गया।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img