8.9 C
Chandigarh

मुख्यमंत्री द्वारा ‘खेडां वतन पंजाब दीयां ’ के दूसरे भाग की औपचारिक समाप्ति का ऐलान

- Advertisement -spot_img

चंडीगढ़, 10 जनवरीः
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने बुधवार को राज्य के सबसे बड़े खेल मुकाबले ‘ खेडां वतन पंजाब दीयां ’ के दूसरे भाग की औपचारिक समाप्ति का ऐलान किया। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य भर में हुये इन खेलों में 4.5 लाख से अधिक विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि खेल के दौरान राज्य भर के स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक के विजेता 11 हज़ार खिलाड़ियों के लिए 8. 30 करोड़ रुपए की इनामी राशि जारी की जो कि खिलाड़ियों के बैंक खातों में ट्रांसफर कर दी जायेगी। भगवंत सिंह मान ने इन खिलाड़ियों को उनकी सफलता के लिए मुबारकबाद देते हुये उम्मीद जताई कि यह खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में राज्य के लिए यश अर्जित करना जारी रखेंगे। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस साल आठ उम्र वर्गों के 35 मुकाबले करवाए गए और पहली दफ़ा इन खेलों में रगबी, सायकलिंग, घुड़ सवारी, वुशू और वॉलीबाल शूटिंग को भी शामिल किया गया। उन्होंने कहा कि इस बार अंडर- 14, 17, 21, 21 से 30, 31 से 40, 41 से 55, 56 से 65 साल और 65 साल से अधिक उम्र वर्ग के मुकाबले करवाए गए। भगवंत सिंह मान ने कहा कि स्वर्ण पदक विजेता को 10 हज़ार, रजत के लिए सात हज़ार और कांस्य पदक विजेता के लिए पाँच हज़ार की इनामी राशि समेत कुल 8. 30 करोड़ रुपए के नकद इनाम खिलाड़ियों को दिए गए। 
मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि यह खेल खिलाड़ियों को अपने हुनर के प्रदर्शन के लिए एक प्लेटफार्म मुहैया करने की दिशा में बड़ा कदम है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि यह खेल खिलाड़ियों की क्षमता और कमज़ोरियों की पहचान करने के लिए राज्य सरकार के लिए मददगार होंगी, जो कि भविष्य में खिलाड़ियों को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के लिए तैयार करने के लिए सहायक साबित होगा। उन्होंने आगे कहा कि पंजाब में खेल को लोकप्रिय बनाने के लिए राज्य सरकार कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रही क्योंकि खेल राज्य की तरक्की और लोगों की ख़ुशहाली के लिए अहम भूमिका निभा सकती हैं। 

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img