13.5 C
Chandigarh

क्या चोट से उबरने के बाद एशिया टीम चैंपियनशिप में करेंगी वापसी: पीवी सिंधू

- Advertisement -spot_img

Will PV sindhu succeed in 2024? 

थॉमस कप चैंपियन भारत अपने खिलाड़ियों के प्रदर्शन के बूते बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप का खिताब जीतने की कोशिश करेगा, जिसमें 2 बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधू की चोट से वापसी होगी। भारतीय पुरुष टीम ने 2022 में थॉमस कप जीता और पिछले साल के एशियाई खेलों में पहला रजत पदक हासिल किया था। टीम की कोशिश इस महाद्वीपीय प्रतियोगिता के फाइनल तक पहुंचने की होगी जिसमें उसने 2016 और 2018 में कांस्य पदक जीता था।

Read also: मुख्य सिपाही की गोली मारकर हत्या; सड़क किनारे मिला शव

सिंधू के लिए यह टूर्नामेंट ज्यादा अहमियत रखता है, क्योंकि वह पिछले साल अक्तूबर से खेल से बाहर है, जिससे वह अपनी मैच फिटनेस देखना चाहेंगी और जरूरी आत्मविश्वास हासिल करना चाहेंगी। भारतीय पुरुष टीम को ग्रुप ए के लीग मैच में मजबूत चीन और हांगकांग का सामना करना होगा जिससे यह उसके लिए इतना आसान नहीं होगा। महिला टीम के लिए सफर मुश्किल भरा होगा जिसमें सिंधू और दो युगल जोड़ियां त्रिशा जॉली और गायत्री गोपीचंद तथा अश्विनी पोनप्पा और तनीषा क्रास्टो शामिल है। फिटनेस हासिल करने के बाद वह बेंगलुरु में ‘मेंटोर’ प्रकाश पादुकोण के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग में जुटी थीं।यह महाद्वीपीय टूर्नामेंट खिलाड़ियों के लिए भी महत्वपूर्ण होगा क्योंकि इससे ‘रेस टूर द 2024 पेरिस ओलंपिक’ के लिए महत्वपूर्ण क्वालिफिकेशन अंक मिलेंगे। ध्यान युवा और दूसरे दर्जे के भारतीय खिलाड़ियों पर भी लगा होगा जिसमें अस्मिता चालिहा, अनमोल खरब और तन्वी शर्मा शामिल है। भारत बुधवार से अपने अभियान की शुरुआत करेगा जिसमें पुरुष टीम का सामना हांगकांग से होगा जबकि सिंधू एंड कंपनी की भिड़ंत चीन से होगी जिसमें ओलंपिक चैंपियन चेन यु फेई अनुपस्थित होंगी।

Will PV sindhu succeed in 2024? 

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img