13.5 C
Chandigarh

थोक महंगाई दर 9 महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंचकर 0.73% हुई, खाने-पीने की कीमतों में बढ़ोतरी

- Advertisement -spot_img

Wholesale prices index

दिसंबर 2023 में, डब्ल्यूपीआई खाद्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति की दर नवंबर, 2023 के 4.69 प्रतिशत से बढ़कर 5.39 प्रतिशत हो गई। क्रमिक आधार पर, मुद्रास्फीति की दर 0.26 प्रतिशत की वृद्धि के मुकाबले शून्य से 0.85 प्रतिशत नीचे रही। देश की थोक मुद्रास्फीति सालाना आधार पर दिसंबर में 9 महीने के उच्चतम स्तर 0.73 प्रतिशत पर पहुंच गई, नवंबर में यह 0.26 प्रतिशत थी। लगातार 7 महीनों तक नकारात्मक रहने के बाद नवंबर में थोक महंगाई दर सकारात्मक दायरे में लौट आई थी।

Read also: मायावती का बड़ा एलान, अकेले ही लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

ईंधन और बिजली व विनिर्माण क्षेत्र में मुद्रास्फीति क्रमश: शून्य से 2.41 प्रतिशत नीचे और शून्य से 0.71 प्रतिशत नीचे रही। डब्ल्यूपीआई खाद्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति की दर नवंबर, 2023 के 4.69 प्रतिशत से बढ़कर 5.39 प्रतिशत हो गई। क्रमिक आधार पर, मुद्रास्फीति की दर 0.26 प्रतिशत की वृद्धि के मुकाबले शून्य से 0.85 प्रतिशत नीचे रही। खुदरा मुद्रास्फीति का आंकड़ा जारी होने के कुछ दिनों थोक महंगाई दर के आंकड़े सामने आए है। खुदरा महंगाई दर नवंबर के 5.55 प्रतिशत के मुकाबले बढ़कर चार महीने के उच्च स्तर 5.69 प्रतिशत पर पहुंच गई है। हालांकि, मुद्रास्फीति भारतीय रिजर्व बैंक के 2 से 6 प्रतिशत के सहिष्णु दायरे के भीतर बनी हुई है।

Wholesale prices index

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img