18.5 C
Chandigarh

गुरु नगर-औजला में सफाई व्यवस्था पर अधिक ध्यान देने की जरूरत

- Advertisement -spot_img

अमृतसर, 22 जनवरी 2024

            लोकसभा सदस्य श्री गुरजीत सिंह औजला ने आज विकास कार्यों की समीक्षा के लिए जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक की अध्यक्षता की और नगर निगम के अधिकारियों से शहर में साफ-सफाई और कूड़े की समस्या से निजात दिलाने की स्थायी व्यवस्था सुनिश्चित करने का आग्रह किया। इसका ठोस समाधान कर राहत दिलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि कूड़े की समस्या से निजात पाने के लिए डंप साइट पर और नई मशीनें लगाई जा रही हैं।उन्होंने कहा कि रंजीत एवेन्यू में कूड़ा उठाने वाले ट्रकों की पार्किंग तुरंत बंद की जानी चाहिए।
श्री औजला ने नेशनल हाईवे के अधिकारियों से कहा कि जो भी अंडरपास बनाए जा रहे हैं वे 5.5 मीटर के होने चाहिए ताकि लोगों को किसी तरह की दिक्कत न हो। उन्होंने कहा कि केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री श्री नितिन गड़करी के अमृतसर दौरे के दौरान नेशनल हाईवे के जो मुद्दे मैंने उनके ध्यान में लाए थे, उन्हें प्रोजेक्ट के बारे में विस्तार से बताया जाए ताकि वह इसे ध्यान में ला सकें। मंत्रालय और इसे मंजूरी ।एस: औजला ने तुंग ढाब, मानांवाला, भक्तांवाला सहित शहर के नालों और तरन तारन रोड पर नालों में बहने वाले औद्योगिक अपशिष्ट जल पर चिंता व्यक्त की और एक सार्थक समाधान खोजने के लिए कहा।
इस अवसर पर समिति के सहायक अध्यक्ष, सांसद श्री जसबीर सिंह डिंपा ने बीआरटीएस बस सेवा को फिर से शुरू करने पर जोर दिया और कहा कि इन बसों की संख्या बढ़ाने की जरूरत है जबकि निगम बस में बदलाव कर रहा है। इसे बंद करके कबाड़ बना दिया जाता है उन्होंने लोगों की सुविधा के लिए इन बसों को जल्द शुरू करने की मांग की है। एस: डिंपा ने राष्ट्रीय राजमार्ग के लिए अधिग्रहीत भूमि के लिए किसानों को उचित मुआवजा तुरंत जारी करने का भी निर्देश दिया।
बैठक को संबोधित करते हुए विधायक कुंवर विजय प्रताप सिंह ने अधिकारियों से शहर में चल रहे विकास कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि शहर में कूड़े का उठाव बढ़ाने के लिए संबंधित कंपनी द्वारा और नये वाहन लगाये जाने चाहिए। उन्होंने शहर के प्रमुख चौराहों पर बने हाई स्पीड ब्रेकरों (टेबल टॉप) को हटाने पर जोर दिया और कहा कि जनता की राय के बिना ऐसा काम करने वाले अधिकारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जानी चाहिए।
विधायक कुंवर विजय प्रताप सिंह ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि विकास कार्यों में किसी भी प्रकार की देरी बर्दाश्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि सभी विकास कार्य समय से पूरे होने चाहिए। बैठक के दौरान राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, स्वच्छ भारत मिशन, आजीविका मिशन, प्रधान कौशल विकास योजना, सियाल हेल्थ कार्ड, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ और अन्य चल रही योजनाओं की भी समीक्षा की गई।
डिप्टी कमिश्नर घनशाम थोरी ने कमेटी सदस्यों द्वारा उठाए गए मुद्दों को गंभीरता से लिया और तय समय में काम पूरा करने का आश्वासन दिया और कहा कि जो भी अधिकारी किसी भी तरह की लापरवाही करेगा, उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई दर्ज की जाएगी।इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त श्री हरप्रीत सिंह, अतिरिक्त उपायुक्त सुश्री परमजीत कौर, एस.डी.एम. श्री निकस कुमार, एसडीएम डॉ। हरनूर कौर, एसडीएम अरविन्दरपाल सिंह, सहायक आयुक्त श्री विवेक मोदी, दिग्गज आयुक्त श्री हरदीप सिंह एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।
- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img