13.5 C
Chandigarh

ख़ाली पेट ना खिलाएँ एलबेंडाजोल की गोली: ड़ा. गोयल

- Advertisement -spot_img

फाजिल्का, 2 फ़रवरी ():

 स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रदेशभर में 05 फ़रवरी को नेशनल डी वारमिंग डे मनाया जाएगा। इसी के तहत सिवल सर्जन फाजिल्का डा. कविता के दिशा निर्देशानुसार अनुसार व सीनियर मैडीकल अफसर डा. विकास गांधी की योग अगुवाई में ब्लॉक सीएचसी खुईखेड़ा के सभी फ़ील्ड स्टाफ़ व विभिन्न गांवों के सरकारी व प्राईवेट स्कूलों के अध्यापकों को डी वारमिंग डे के संबंध में ट्रेनिंग दी गई।
इस मौके एसएमओ ड़ा. विकास गांधी ने उपस्थिति को अपने संबोधन में कहा कि उक्त एलबेंडाजोल की गोली जो 5 फ़रवरी के दिन सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूलों तथा आंगनबाड़ी सेंटरों में बच्चों को खिलाई जानी है। बच्चों को दोहपर का खाना खाने के बाद, कुछ मिठा खिलाने के बाद यह दवाई दें। खाली पेट गोली को बिल्कुल नहीं देना होता। उन्होंने बताया कि ज्यादातर बच्चे खाना तथा अन्य चीजें खाने से पहले अपने हाथ अच्छी तरह से नहीं धौते, जिस कारण उनको पेट की बीमारियां जल्दी लग जाती है। इसी कारण स्वास्थ्य विभाग द्वारा साल में दो बार 1 से 19 साल तक के सभी स्कूली बच्चों को पेट के कीड़े मारने वाली गोलियां खिलाई जाती है। ताकि जो बच्चों के पेट में कीड़े नहीं होंगे तो उनको खून की कमी भी नहीं होगी और बच्चा अच्छे से खाएगा तो अच्छे स्वास्थ्य के साथ अच्छी पढ़ाई भी करेगे।
बीईई सुशील कुमार ने बताया कि विभाग की ओर से 5 फ़रवरी को ब्लॉक के सभी सरकारी व प्राईवेट स्कूलों व आंगनबाड़ी सेंटरों में 1 से 19 साल तक के बच्चों को पेट के कीड़े मारने वाली गोलियां खिलाई जाएगी।  जो बच्चे दवाई लेने से वंचित रह जाएंगे उनको 12 फ़रवरी को मौपअप वाले दिन यह दवाई दी जाएगी।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img