18.5 C
Chandigarh

खून की कमी से बच्चों में आता है चिड़चिड़ापन : सिविल सर्जन डाॅ. कविता सिंह

- Advertisement -spot_img

फाजिल्का, 05 फरवरी
बच्चों को पेट के कीड़ों से मुक्ति दिलाकर स्वस्थ बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने नेशनल डी वार्मिंग डे के तहत स्थानीय राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के 1 से 2 और 2 से 19 वर्ष के बच्चों को एल्बेंडाजोल की गोलियां खिलाने का जिला स्तरीय कार्यक्रम शुरू किया है। .डा. सिविल सर्जन फाजिल्का। कविता सिंह के कुशल नेतृत्व में।

कार्यक्रम के दौरान डाॅ. कविता सिंह ने बच्चों को संबोधित करते हुए एल्बेंडाजोल टेबलेट खाने का महत्व बताया और खान-पान के बारे में भी बताया गया। इस मौके पर डीआईओ डाॅ. विद्यालय के प्राचार्य एरिक एडिसन एवं विद्यालय स्टाफ विशेष रूप से उपस्थित रहे।
जानकारी देते हुए सिविल सर्जन डाॅ. कविता सिंह ने बताया कि डायरेक्टर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण पंजाब के दिशा-निर्देशानुसार राष्ट्रीय डी-वार्मिंग दिवस के अवसर पर 1 से 2 वर्ष तक के सभी बच्चों को सिरप दिया गया तथा 2 से 2 वर्ष तक के बच्चों को एल्बेंडाजोल की खुराक देना शुरू किया गया। 19 वर्ष। उन्होंने कहा कि इसके तहत पूरे जिले में बच्चों को एल्बेंडाजोल सिरप और एल्बेंडाजोल की गोलियां दी जाएंगी. उन्होंने बताया कि यह खुराक सभी सरकारी, मान्यता प्राप्त, निजी विद्यालयों, आंगनबाडी केंद्रों में पंजीकृत, स्लम एरिया, 1 से 2 वर्ष के बच्चे जो किसी कारणवश स्कूल नहीं जाते हैं तथा 2 से 19 वर्ष के बच्चों को दी जायेगी. यह खुराक…

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की इस पहल से हजारों बच्चों को पेट के कीड़ों से राहत मिलेगी, क्योंकि पेट के कीड़ों के कारण रोजाना भोजन की कमी के कारण अधिकांश बच्चे शारीरिक कमजोरी, एनीमिया और चिड़चिड़ापन से पीड़ित होते हैं, लेकिन अब खुराक के साथ इस दवा से बच्चों को एनीमिया के साथ-साथ बीमारियों से भी छुटकारा मिलेगा। इस मौके पर मास मीडिया विंग से बीईई हरमीत सिंह, दिवेश कुमार, आरबीएसके कोऑर्डिनेटर बलजीत सिंह, लेक्चरर परमजीत सिंह, डीपीई सुरिंदर कुमार आदि मौजूद थे।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img