12.5 C
Chandigarh

इन 4 गलतियों के कारण शरीर में बढ़ जाता है; पित्त की पथरी का खतरा ज्यादातर लोग करते है यह गलतियां

- Advertisement -spot_img

Causes of gallstones

पित्त हमारे शरीर के महत्वपूर्ण अंगों में से एक है, जिसके शरीर में कई महत्वपूर्ण कार्य होते है। इसे पित्ताशय या पित्त की थैली भी कहा जाता है और इसका प्रमुख कार्य पित्त रस को जमा करना है। पित्ताशय की थैली से जुड़े सबसे प्रमुख रोगों में पित्त की पथरी ही है, जिसके पीछे आमतौर पर कई कारण हो सकते है। पित्ताशय में पथरी होने के पीछे कई कारण हो सकते है और इनके पीछे का प्रमुख कारण पित्ताशय की पथरी होना ही है। पित्त की पथरी के पीछे कई अलग-अलग कारण हो सकते है और इनमें से कुछ हमारे द्वारा की जाने वाली गलतियां भी है, जिनके कारण पित्त में पथरी होने लगती है।

Read also: भारतीय राजनीति के इतिहास में 30 जनवरी काले दिन के तौर पर दर्ज

  1. ज्यादा शुगर लेने की आदत- कुछ अध्ययनों में यह पाया गया है कि रोजाना 40 ग्राम से ज्यादा शुगर ले रहा है, तो यह पित्ताशय की पथरी होने के खतरे को दोगुना कर सकता है। यह ध्यान रखना जरूरी है कि शुगर सिर्फ चीनी से ही नहीं बल्कि मैदे समेत कई चीजों से हमारे शरीर को मिलता है।
  2. सब्जियां कम खाने की आदत- पित्ताशय में पथरी होने से बचने के लिए बहुत सी चीजों का ध्यान रखना पड़ता है। पित्ताशय में पथरी जैसी बीमारियों से बचने के लिए सही डाइट का होना भी जरूरी है। खूब मात्रा में सब्जियां खाएं जिनसे आपको वेजिटेबल प्रोटीन जैसे कुछ खास तरह के तत्व मिलेंगे और ये तत्व भी आपको गाल ब्लैडर में स्टोन होने से बचाते है।
  3. फिजिकल एक्टिविटी कम होना- शरीर को हेल्दी रखने के लिए पर्याप्त फिजिकल एक्टिविटी होना जरूरी है। खासतौर पर जो लोग डेस्क जॉब करते हैं या कोई भी ऐसा काम करते हैं, जिसमें उन्हें दिन के ज्यादातर समय घर पर ही बैठे रहना होता है। उनके लिए फिजिकल एक्टिविटी का होना जरूरी है और ऐसा करके ही वे पित्त की थैली में पथरी के खतरे से बच सकते है।
  4. उचित साफ-सफाई न रखना- शरीर की उचित सफाई रखना भी बहुत ज्यादा जरूरी होता है और ऐसा न करना कई बीमारियों होने के खतरे को बढ़ा सकता है। उचित सफाई न रख पाने के कारण संक्रमण आदि होने का खतरा बढ़ जाता है और संक्रमण के कारण पित्त में पथरी होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

Causes of gallstones

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img