18.5 C
Chandigarh

हॉकी टीम के गोलकीपर कृष्णा बहादुर पाठक को मिला अर्जुन अवार्ड

- Advertisement -spot_img

Arjuna award

हॉकी टीम के गोलकीपर कृष्णा बहादुर पाठक को बचपन से ही हॉकी खेलने का शौक था, लेकिन आर्थिक तंगी थी। न तो उनके पास हॉकी थी और न ही जूते होते थे। लेकिन उनका जुनून उन्हें भारतीय टीम तक ले गया। वह कई बार नंगे पांव एवं पुराने बूटों के साथ ही मैदान में खेलते रहे। कपूरथला के रेल कोच फैक्टरी वासी कृष्णा बी पाठक को दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक भव्य समारोह में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने अर्जुन अवार्ड से सम्मानित किया। यह आयोजन देश के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों सम्मानित करने के लिए किया गया था। इसमें 26 खिलाड़ियों को अर्जुन अवार्ड पुरस्कार से सम्मानित किया गया। हॉकी टीम के गोल कीपर कृष्णा बहादुर पाठक ने वर्ष 2023 में होंगझोक एशियाई खेलों में भारतीय हॉकी टीम में सेकेंड गोलकीपर के तौर पर अहम भूमिका निभाई थी, जिसके चलते देश को गोल्ड मेडल मिला था। पाठक ने अर्जुन अवॉर्ड मिलने पर खुशी जताई। वह राष्ट्रपति भवन में अपने चाचा के साथ पहुंचे थे। लेकिन उनका जुनून उन्हें भारतीय टीम तक ले गया। वह कई बार नंगे पांव एवं पुराने बूटों के साथ ही मैदान में खेलते रहे। सीनियर खिलाड़ी उन्हें पुरानी हॉकी दे देते थे, जिससे उनका खेल जारी रहता था।

Read also: Australia टीम ने टेस्ट ओपनर पर लिया फैसला…

कृष्णा ने वर्ष 2023 में भारतीय हॉकी टीम की तरफ से खेलते हुए देश को एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल दिलाने में अहम भूमिका अदा की। कृष्ण जूनियर विश्व कप विजेता भी है। शानदार खेल की बदौलत ही इस बार उनको अर्जुन अवॉर्ड के लिए चुना गया। अर्जुन अवॉर्ड मिलने पर आरसीएफ के साथ-साथ उन्होंने कपूरथला और पंजाब का नाम भी रोशन किया है।

Arjuna award

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img