23.5 C
Chandigarh

पंजाब में लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी AAP

- Advertisement -spot_img

AAP Punjab Lok Sabha Elections 

पंजाब की सभी 13 सीटों पर आम आदमी पार्टी (AAP) अकेले लोकसभा चुनाव लड़ेगी। इसके लिए अंदरूनी तौर पर AAP ने पूरी तैयारी कर ली है। 13 लोकसभा सीटों पर 40 नामों की लिस्ट भी तैयार कर ली गई है। किसी सीट पर 2 तो किसी पर 4 विकल्प भी रखे गए हैं।

आप से जुड़े सूत्रों के मुताबिक कुछ दिन पहले दिल्ली में हुई मीटिंग में AAP संयोजक अरविंद केजरीवाल ने इस फैसले को हरी झंडी दे दी है। इस मीटिंग में आप के राज्यसभा सांसद संदीप पाठक के साथ पंजाब के CM भगवंत मान और कई सीनियर नेता मौजूद थे।

AAP इस फैसले को विपक्षी दलों के गठबंधन I.N.D.I.A की मीटिंग में भी रखेगी। पंजाब CM भगवंत मान पहले ही 13-0 से जीतने की बात कह चुके हैं। वह लगातार अलग चुनाव लड़ने की पैरवी कर रहे हैं।

हर सीट पर 3 विकल्प, सर्वे के बाद सिलेक्शन
सूत्रों के मुताबिक आम आदमी पार्टी ने प्रत्येक सीट से कैंडिडेट के 3 विकल्प चुने हैं। अब इन उम्मीदवारों को लेकर पार्टी अपना सर्वे करवाएगी। साथ ही जो उम्मीदवार लोगों की पसंद हैं, उन्हें टिकट दी जाएगी।

सूत्रों से पता चला है कि राज्य सरकार कुछ मंत्रियों सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को संसदीय चुनाव लड़ने के लिए कह सकती है। साथ ही युवाओं और महिलाओं को चुनाव में महत्व दिया जाएगा। हालांकि जालंधर से कांग्रेस छोड़ AAP के लोकसभा सांसद बने सुशील रिंकू की टिकट पक्की मानी जा रही है।

READ ALSO:आई. डी. एफ. सी. बैंक का मैनेजर 40,000 रुपए रिश्वत लेता विजीलैंस द्वारा काबू

निकाय और पंचायत चुनाव भी बड़ी वजह
लोकसभा चुनाव में एक साथ न उतरने के पीछे कई वजह हैं। क्योंकि लोकसभा चुनाव के बाद पंजाब में निकाय और पंचायत चुनाव भी होने तय हैं। अगर, यह दोनों दल इकट्‌ठे चुनावी मैदान में जाते हैं, तो उसका असर उन पर पड़ सकता है। आप जहां पंजाब में सत्ता में है तो कांग्रेस विपक्षी दल है। अगर यह दोनों इकट्‌ठे हो जाते हैं तो विपक्षी दल इस मुद्दे को गंभीरता से उठाएंगे। ऐसे में दोनों दल किसी भी तरह की चूक नहीं करना चाहते हैं।

AAP Punjab Lok Sabha Elections 

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img