Loading...

बुचड़ो को नही मिलेगी ट्रक और गौधन की सपुरदारी : महंत रवि कान्त

चेयरमैन कीमती भक्त की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में हुआ फ़ैसला 

पटियाला (पी एन टी न्यूज़ डेस्क) : पंजाब गऊ सेवा कमीशन के दफ्तर में चेयरमैन कीमती भक्त की अध्यक्षता में पंजाब के सभी जिलो के पुलिस अफसरों की मीटिंग पंजाब में गऊ तस्करी रोकने के लीये हुई। इस मीटिंग में गऊ सुरक्षा को लेकर योजनाये बनाई गयी। इस मीटिंग में हिन्दू वेलफेयर बोर्ड के अध्यक्ष महंत रवि कान्त ने सभी पुलिस अधिकारीयों को कहा कि मुकदमा दर्ज होने के बाद बुचड़ ट्रक और गौधन की सपुरदारी के लिए अदालत में मांग करता है। जिस पर अदालत द्वारा पुलिस से रिपोर्ट मांगी जाती है। जिस पर उस मुकदमे का इनक़्वारि अफसर बूचड़ को गाड़ी और गौधन बूचड़ को देने के लीये अपनी इतराजहिंता की रिपोर्ट अदालत में दे देता है।

बता दे कि पुलिस की उस रिपोर्ट के आधार पर अदालत गऊ तस्करी में शामिल ट्रक, वाहन या गौधन बुचड़ो के सपुर्द करने के आदेश जारी कर देती है। महंत रवि कान्त ने कहा इस तरह गाड़ियां रिलीज होने के बाद फिर से गौतस्करी में लग जाती है। जिससे पंजाब में कानून व्यवस्था की स्थिति बनती है। महंत ने कहा कि पंजाब में इस स्थिति को रोकने के लीये पुलिस द्वारा बुचड़ो को मुकदमे से सम्बंधित किसी भी सपुरदारी के विरोध में रिपोर्ट तैयार की जाये। इसका कमीशन के चेयरमैन कीमती भक्त ने भी समर्थन किया।

वहा मौजूद सभी जिलों के एसपी और डीएसपी स्तर के अधिकारीयों ने विश्वास दिलाया कि अब आगे से बुचड़ो के हक में पुलिस द्वारा रिपोर्ट नही दी जायेगी। जिससे बुचड़ो को तस्करी में शामिल वाहन, ट्रक या गौधन की सपुरदारी नही मिलेगी। मीटिंग में कमीशन के चेयरमैन कीमती भक्त ने कहा कि सभी अफसर पॉजिटिव काम करे जिससे बेहतर परिणाम निकलेंगे। इस मीटिंग में राजस्थान गऊ सेवा कमीशन के चेयरमैन राजिंदर सिंह राजपुरोहित, पंजाब गऊ सेवा कमीशन के सूंदर लाल धमीजा, होशियारपुर से डॉ नानक सिंह आईपीएस, अर्शदीप गिल पीपीएस, नाहर सिंह पीपीएस, गुरिंदर सिंह बल आदि कुल 26 जिलो के पुलिस अफसरों ने भाग लिया।

Newsletter

Get our products/news earlier than others, let’s get in touch.